समाचार | अहिंसा न्यूज़

गौरझामर 15अक्टूबर 2018
*देश धर्म की चिंता करना चाहिए*—

मुनि श्री
गौरझामर जिला सागर (मध्य प्रदेश) में आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के शिष्य
मुनि श्री विमल सागर जी
मुनि श्री अनंत सागर जी
मुनि श्री धर्म सागर जी
मुनि श्री अचल सागर जी
मुनि श्री अतुल सागर जी
मुनि श्री भाव सागर जी महाराज के सानिध्य में श्री पारसनाथ दिगंबर जैन बड़ा मंदिर गौरझामर में करेली से आए पाठशाला के बच्चों ने अपनी सांस्कृतिक प्रस्तुति दी जिसके अंतर्गत
मूक माटी, हथकरघा, गौशाला, भारत बने भारत की शानदार प्रस्तुति दी धर्म सभा को संबोधित करते हुए यह मुनि श्री भाव सागर जी ने कहा कि मंदिर, गौशाला, पाठशाला में जो भी सहयोग देता है ।उनका सम्मान करना चाहिए क्योंकि सेवा करने वाले को हम क्या देते हैं जबकि वह कितना काम करते हैं पाठशाला संस्कारों के लिए सबसे अच्छा माध्यम है करेली में संयम कीर्ति स्तंभ बन गया है संयम की कीर्ति फैलेगी
मुनि श्री अतुल सागर जी ने कहा कि सौभाग्य शाली होते हैं जिनको गुरुओं का उपदेश मिलता है ।बच्चे राष्ट्र का भविष्य हैं। समाज की धरोहर हैं यदि हम उनकी नीव को मजबूत नहीं बनाएंगे तो वह कुसंस्कार के कारण समाज और राष्ट्र को बर्बाद कर देते हैं उन बच्चों में सत्य अहिंसा सहनशीलता सहयोग आदि भरने के लिए पाठशाला अच्छा माध्यम है। बच्चों के ऊपर टीवी के बुरे प्रभाव पड़ते हैं। पाठशाला में जो बाढ़ है उसको आचरण में लाने के लिए घर को प्रयोगशाला बनाएं। छोटे-छोटे बच्चों को मोबाइल दे देते हैं अपनी परेशानी से बचने के लिए बच्चों की आदतें खराब कर रहे हैं । आज विद्या अर्थ कारी ही हो गई है। बड़े-बड़े शहरों में पढ़ने जा रहे हैं। पढ़ने के बाद विदेश चले जाते हैं। हमारी प्रतिभाये विदेशी जा रही हैं। अध्यात्म अहिंसा के कारण हमारा देश विश्व गुरु बन सकता है। आप लोगो को शिक्षा, चिकित्सा, के लिए प्रत्येक नगर में व्यवस्था करना चाहिए। जैसे आप घर दुकान मंदिर बनाते हैं। वैसे ही इस प्रकार के केंद्र बनाना चाहिए। कार्यक्रम के माध्यम से शिक्षा लें मुनि श्री विमल सागर जी ने कहा कि जब देखते हैं कि यह नगर प्यासा है। तो आपको कुछ देने का प्रयास करते हैं ।आचार्य श्री को बहुत सी दीक्षाये दे देना चाहिए। जिससे प्रत्येक नगर में साधुओं के प्रवास मिल जाये। नारी के अंदर इतनी शक्ति होती है। कि वे तीर्थंकर को जन्म देती है ।ऐसी बरेली नारियां होती है जो यह सोचती है कि हमारी संतान धर्म की पताका फहराये। आज भी हम अच्छी भावना भाये और संतान को संस्कार दें। हमें देश, धर्म की चिंता नहीं है बस अपनी चिंता है। धर्म की रक्षा की भावना माता-पिता बनाएंगे तो वह आप की भी रक्षा करेगा। आप एक अच्छा स्कूल नहीं खोल सकते हैं क्याॽ आपका धन बाहर जा रहा है। आप यहां एक अच्छा स्कूल खोले। शिक्षा देने वाली यदि संस्कारित नहीं होंगे तो बच्चों के अंदर संस्कार कैसे आएंगे। यदि बच्चा संस्कारित होगा तो भटकेगा नहीं। प्रत्येक नगर में नियम होना चाहिए कम से कम 30 मिनट के लिए बच्चों को पाठशाला जरूर भेजें। धर्म सभा में अरुण घुरा, प्रभात खामखेड़ा,अमर चौधरी, दीपक चौधरी, प्रवीण चौधरी, हिमांशु जैन, आदि मौजूद थे इस अवसर पर करेली पाठशालाओं की शिक्षिकाओं एवं कमेटी का सम्मान किया गया
*प्रेषक*
*लकी चौधरी*
*9806909015*

मुनि श्री तरुण सागर जी महाराज को श्रद्धांजलि की खबर गौरझामर की देखें खबर लाइव चैनल के लिंक पर

*🌍संत शिरोमणि योग ध्यान शिविर*🌍

*🌌फाइनल स्थान🌌,
सतना रीवा ,अमरपाटन,
*👉🏻आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के संयम स्वर्ण महोत्सव 2017-18 के उपलक्ष्य में*

*🍂निर्देशक- राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त योगाचार्य डॉ नवीन जैन जबलपुर*🍂

📲 MO.9837636708

*📺प्रचार सहयोगी*
पारस चैनल,जिनवाणी चैनल

*📠ईमेल*-navinjain2109@gmail.com

*🖥वेबसाइट*-WWW.AHINSAYOGFOUNDATION.

📽 *YOUTUBE-* AHINSAYOGFOUNDATION

*📧FB-*YOGACHARYA NAVIN JAIN

*📝Whatsapp group-* अहिंसा योग फाउंडेशन

*📰वेबसाइट:*www.ahimsanews.com
www.santshiromani.com
www.vidhyasagar.guru

*🛡App-*santshiromani
Vidhyasagarsant

🔖 *Twitter*-ahimsanews

*⌛Whatsapp-*संतशिरोमणि ध्यानयोग शिविर
9584444141

🔺 *विशेष आकर्षण* 🔺
पूरे विश्व में वीडियो फ़ोटो, चैनल,दैनिक समाचार पत्र,पत्रिकाओं सोशल मीडिया के माध्यम से प्रकाशित किये जायेंगे

*5⃣0⃣ स्थानों में से छपारा से शुरुआत हो चुकी है रामटेक बरेली (बाडी) छिंदवाड़ा, तेंदुखेड़ा, शिखर जी,मण्डला,केवलारी मंडी बामोरा गंज बासोदा चौरई शहपुरा में हो चुके है।*

*🚶🏻‍♀आगामी संभावित शिविर आयोजन :*🚶🏻
1⃣सतना
2⃣उदयपुर
3⃣सूरत
4⃣लखनादौन
5⃣सिवनी
6⃣देवरी बड़ी सागर
7⃣महराजपुर
8⃣अमरपाटन
9⃣गोटेगांव
1⃣0⃣जयपुर
1⃣1⃣मुम्बई
1⃣2⃣सागर
1⃣3⃣रहली
1⃣4⃣ललितपुर
1⃣5⃣गौरझामर
1⃣6⃣किशनगढ़
1⃣7⃣बण्डा
1⃣8⃣सिलवानी
1⃣9⃣तारादेही
2⃣0⃣इंदौर
2⃣1⃣कलकत्ता
2⃣2⃣दिल्ली
2⃣3⃣जबलपुर
2⃣4⃣गोंदिया
2⃣5⃣दुर्ग
2⃣6⃣बिलहरा
2⃣7⃣रांझी
2⃣8⃣दमोह
2⃣9⃣मालथौन
3⃣0⃣बालाघाट
3⃣1⃣कटंगी
3⃣2⃣खुरई
3⃣3⃣वारासिवनी
3⃣4⃣पारसिवनी
3⃣5⃣अशोकनगर
2⃣6⃣भीलवाड़ा
3⃣7⃣भोपाल
3⃣8⃣हाटपिपलिया
3⃣9⃣औरंगाबाद
4⃣0⃣पुणे
41 अजमेर
42 गुना
*👉🏻आप यह संदेश विश्व के सभी लोगों तक पहुंचाएं।*
*और अपने अपने नगर की दिनांक समाज के प्रमुख महानुभावों से चर्चा करके अतिशीघ्र बताएं स्थान दिनांक सीमित है स्थानों में परिवर्तन भी हो सकता है ,संत शिरोमणि योग टीम से सम्पर्क कर फाइनल कर लें।*

📜 *सम्पर्क सूत्र*
सुनीत जैन
8878459458
प्रशांत जैन छिंदवाड़ा
9039080517
पियर्स जैन
9584444141
अभषेक कोशल छिंदवाड़ा
9424771009
गौरव जैन लकी छिंदवाड़ा 94243 42730
सौरभ चौधरी जबलपुर

सर्वोच्च न्यायालय ने पक्ष में दिया निर्णय

बड़े बाबा के मन्दिर में पाषाण की जितनी भव्य प्रतिमा जी विशाल वेदी जी पर विराजित है, उसकी गरिमा के अनुरूप विशाल पाषाण का हज़ार -पन्द्रह सौ साल तक टिका रहने वाला कलात्मक मन्दिर का निर्माण कार्य तेज़ गति से चल रहा था। भगवान आदिनाथ जी के मन्दिर का निर्माण कार्य चलते न्यायालय में बाधाऐं पुरातत्व विभाग और कुछ लोगों के द्वारा उपस्थित कर दी गयी। प्रकरण सर्वोच्च न्यायालय तक ले जाया गया । आचार्य श्री को ९ मई को हुए फ़ैसले की जानकारी बतायी गयी कि सर्वोच्च न्यायालय ने पुरातत्व विभाग की याचिका ख़ारिज कर दी है ।

Download Android App Download iOS App